होंगे हजारों ऐब हम में पर मोहब्बत भी बेमिसाल थी
देते बदल खुद को तेरे लिए कमी थी बस एक सवाल की
0 0 0 0 0 0 0
Like Like Like Like Like Like Like