दाद देते हैं तुम्हारे नजर-अंदाज करने के हुनर को 
जिसने भी सिखाया वो उस्ताद कमाल का होगा।
0 0 0 0 0 0 0
Like Like Like Like Like Like Like